Got this song by Atif Aslam, of Tere Bin fame recently, from some blog on the net. Contains very melodius music and awesome lyrics. You can download the song here.

आज दिल दुखा है .. तुम याद आए
अनजाने लोग हैं .. अपने कहाँ ढूँड पायं

जागे हैं .. सोए नहीं .. ऐसी है मेरे एह बेचैनी ..
दिन भी वही .. रातें वहीं .. साँसों मैं साँसें हैं नही

शामें अब ढलती नहीं .. आँचल जो तेरा सिमट जाए ..
आ अब यहाँ हमेशा रहें .. दूरी रहे ना हों फ़ासले ..

जागे हैं सोए नही .. ऐसी है मेरी एह बेचैनी ..
दिन भी वही .. रातें वाहें .. साँसों मैं साँसे हैं नही ..

अब अगर तुम मिले तो .. इतना यक़ीन हैं
हँस देंगे हम तो रोना नहीं है .. 

Leave a Reply